Official ICC App

Your App for international cricket. The official ICC app provides coverage across all of the current international action including fixtures, results, videos, ICC news, rankings and more. Don’t miss a moment and keep up with the latest from around the world of cricket!

India

दबदबा कायम रखने का मुकाबला होगा भारत व आस्ट्रेलिया का मैच

डब्लूटी-20, फीचर

सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली भारतीय और आस्ट्रेलियन टीम आईसीसी वूमेंस वर्ल्ड टी-20 में अपने तीनों मैच जीती हैं.

यह दोनों टीमें रविवार को ग्रुप बी का आखिरी मैच खेलेंगी.

ग्रुप बी के अंक तालिका और परिणामों पर निगाह डालने के बाद साफ दिखता है कि इन दोनों ही टीमों का अब तक का सफर लगभग एक जैसा रहा है. दोनों टीमों के तीन मैचों से छह-छह अंक हैं. दोनों ने अपने मैचों में बड़ी और आसान जीत दर्ज की है.

आस्ट्रेलिया अपने मैच 52 रन, 9 विकेट और 33 रन से जीती जबकि भारत ने 52 रन, सात विकेट और 34 रन से अपने तीनों मैच जीते हैं.

Video cwc19 09 Nov 18
NZ v IND - Full match highlights
Match highlights from the opening fixture of the Womens World T20 2018 in the West Indies.

आस्ट्रेलिया के लिए अलेसा हिली दो अर्धशतक और 48 रन बनाने के कारण तीन बार मैच की सबसे बेहतरीन खिलाड़ी चुनी जा चुकी हैं. भारत की मिथाली राज दो पारियों में दो फिफ्टी मारने के बाद मैच की श्रेष्ठ खिलाड़ी बनी और टूर्नामेंट में शतकीय पारी खेलने वाली भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर एक बार यह सम्मान हासिल करने में सफल रही.

दोनों ही टीमों ने अपनी विपक्षी टीमों के 24 बल्लेबाजों के विकेट हासिल किए जिनमें रन आउट भी शामिल हैं.

दोनों ही टीमों ने अब तक विपक्षी टीमों के खिलाफ हावी होकर बेखौफ क्रिकेट खेला है. दोनों ही टीमों ने अपने बल्लेबाजी के क्रम में बदलाव किया है और हर सदस्य टीम में अपनी भूमिका के बारे में बात कर रहा है.

फिर भी, इन आंकड़ों और नतीजों के बावजूद यह दोनों टीमें अलग हैं.

Video cwc19 14 Nov 18
AUS v NZ: Full match highlights

भारतीय टीम हावी होकर खेलना अभी सीख रही है जबकि आस्ट्रेलिया इसमें माहिर है.

इस टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी टीमों से संभावित विजेता के बारे में पूछने पर वे मेग लेनिंग की आस्ट्रेलियाई टीम को ही दावेदार बता रहे हैं.

तीन बार की वर्ल्ड टी-20 चैंपियन आस्ट्रेलिया में गहराई तक मजबूती है. उसके पास नंबर आठ तक बल्लेबाजी करने में सक्षम एलेस पैरी जैसी दुनिया की श्रेष्ठ बल्लेबाज है. फिर कुछ समय पहले तक इस फोरमेट में विश्व की नबंर एक गेंदबाज जैस जोनासन अभी बाहर बैठी हैं. इस टीम में एक तेज शुरुआत देने की क्षमता है. यह टीम पॉवर प्ले के हर ओवर में औसतन 9 रन बना रही है. पैरी तो 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार की बॉल डाल चुकी हैं. टीम की फिल्डिंग भी उम्दा रही है.

Video cwc19 11 Nov 18
IND v PAK: Full match highlights

टूर्नामेंट में जबरदस्त फॉर्म में चल रही हिली कहती हैं कि उनके बड़े स्कोर बॉल को देखो और ठोकों की सोच के कारण ही बने हैं.कई टीमों के पास उपरीक्रम में कई ऐसे बल्लेबाज है जो ऐसा स्टाइल अपना रहे हैं जो जोखिम भरा लेकिन परिणाम देने वाला साबित हो सकता है. लेकिन उन टीमों में आस्ट्रेलिया जैसी निरंतरता नदारद है. आस्ट्रेलियाई टीम को स्कोर करने के विकल्पों की पहचान करना और उन्हें पैदा करना आता है.

पैरी ने कहा, “ अगर आपको ऐसे टूर्नामेंटों में कामयाब होना है तो लगातार बेहतर खेलना पड़ेगा. इसलिए लगातार जीत के लिए टीम के पास एक पुख्ता योजना होनी चाहिए. यह खुद को हौसला देने वाला है. वह भी तब जब टीम अच्छा खेल रही हो और  टीम के सदस्यों को बड़ी भूमिका निभाने को मिल रही हों. यह काफी नायाब और अहम है. टूर्नामेंट के आखिरी हिस्से में दबाव से निपटने के लिए यह काफी जरूरी है. ”

दूसरी तरफ, कप्तान हरमनप्रीत कौर के शतक के बावजूद भारतीय टीम नपे-तुले खेल के साथ यहां तक पहुंची है. इस टीम ने काफी धीमी शुरूआत की. टीम के सारे सदस्य ऐसे नहीं हैं जिनके प्रदर्शन में आत्मविस्वास झलकता हो.

Video cwc19 10 Nov 18
AUS v PAK - Full match highlights
Highlights from Australia v Pakistan in the opening day of the Womens world T20 2018 in the West Indies.

हालांकि समृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर जैसी व्यक्तिगत तौर पर बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ियों की मौजूदगी भारत के पक्ष में है. टीम के पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपने बल्ले के दम पर खेल का रुख बदल सकते हैं. अलग भूमिका के लिए भी वे तैयार हैं. मिथाली राज नंबर सात पर खेली और फिर पारी की शुरूआत भी की. इस टीम के पास विश्व स्तर के स्पिनर भी है. 

भारत के स्पिनर हावी होकर आक्रामक गेंदबाजी कर रहे हैं.

भारत और आस्ट्रेलिया ग्रुप का आखिरी मुकाबला दो मजबूत टीमों के बीच दबदबे को कायम रखने वाला मुकाबला होगा.जाहिर है कि कोई बिना लड़े हथियार नहीं डालेगा.

मंधाना ने कहा, “ रमेश सर (भारतीय टीम के कोच) ने कहा कि इस बारे में नहीं सोचना है कि सामने वाली टीम हावी या आक्रामक होकर खेलती है. उससे दबाव बढ़ सकता है. बल्कि हमें सोचना है कि हम हावी होकर खेल रहे हैं और हमारी आक्रमकता विपक्षी टीम को हराने के लिए काफी है.”