Official ICC App

Your App for international cricket. The official ICC app provides coverage across all of the current international action including fixtures, results, videos, ICC news, rankings and more. Don’t miss a moment and keep up with the latest from around the world of cricket!

IND RC

कई बार जैसा सोचते हैं, वैसा नही होता - हरमनप्रीत

भारत बनाम इंग्लैंड, डब्लूटी-20 का दूसरा सेमीफाइनल, प्रतिक्रिया

आईसीसी वर्ल्ड टी-20 2018 से सेमीफाइनल में भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ महज 112 रन ही बना पाई. मैच के बाद कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा कि यह जीत के लिए मजबूत स्कोर नहीं था.


अगर प्लेयिंग इलेवन में मिथाली राज रहती तो क्या स्कोर ज्यादा होता?  शायद इस बारे में कोई न बता पाए लेकिन इस अनुभवी ओपनर के साथ ना खेलने का बड़ा फैसला टीम को रास नहीं आया.

Video
The WT20 Daily Show – Episode 13 with Ebony Rainford-Brent and Mel Jones

पहले मैचों में मिथाली ने 56 और 51 रन की पारियां खेली थी. लेकिन ग्रुप बी के आखिरी मैच में वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ नहीं खेली. भारतीय टीम वह मैच जीती और सेमीफाइनल में उसी टीम के साथ उतारने का फैसला हुआ और वह आठ विकेट से हार गई.

इस बारे में कप्तान ने कहा, “ हम आस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छा खेले. यही कारण था कि ठीक उसी टीम के साथ खेलने का फैसला किया गया. वह (मिथाली) पारी की शुरूआत करती हैं. हमें ऐसे खिलाड़ियों की जरुरत है जो समृति (मंधाना) और मेरे आउट होने के बाद टीम के लिए रन बना सकें. कई बार जैसा सोचते हैं वैसा हो जाता है और कई बार नहीं भी.”

Video
ENG v IND: Full match highlights

साफ है कि 112 रन मजबूत स्कोर नहीं था और इंग्लैंड को इसे हासिल करने में 17.1 ओवर ही बल्लेबाजी करनी पड़ी. इसमें एमी जोंस ( नाबाद 53) और नेटली स्काइवर (नाबाद 52 रन) बना कर गईं.

हरमनप्रीत ने कहा, “ यकीनन यह अच्छा स्कोर नहीं था लेकिन फिर भी मुझे भरोसा था कि अगर हम अच्छी गेंदबाजी करेंगे तो जीत जाएंगे. यह सब खेल का हिस्सा है. मेरा मानना है कि 140-150 का स्कोर होने पर हम यह मैच जीत सकते थे”.

Video
ENG v IND: Post-match presentation, including Player of the Match Amy Jones

स्पिन गेंदबाजी भारत की मजबूती है. सेमीफाइनल में भी मिडियम पेसर अरुनाधाती रेड्डी के होते हुए भी सारे ओवर स्पिनरों से ही करवाए. हालांकि इंग्लैंड की स्पिनर एंटिगा की पिच पर ज्यादा टर्न हासिल करने में सफल रहीं.

हरमनप्रीत ने कहा, “ मुझे लगता है कि दूसरी पारी में डयू फेक्टर था लेकिन मैं कोई बहाना नहीं बनाना चाहती क्योंकि हम पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे।"

Video
ENG v IND: Kirstie Gordon gets Harmanpreet Kaur for 16

बेशक भारतीय टीम सेमीफाइनल में हारी जरुर लेकिन इस टूर्नामेंट में उसने इससे पहले अपने सारे मैच जीते. इस टीम ने न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया जैसी बड़ी टीमों को भी हराया.

टूर्नामेंट में टीम के लिए पॉजिटिव क्या रहा, इस सवाल पर कप्तान ने कहा, “ मेरा मानना है कि हमने आक्रामक क्रिकेट खेला. इससे पहले हम एक डिफेंसिव टीम थे. यह हमारे लिए साकारात्मक रहा.”