Official ICC App

Your App for international cricket. The official ICC app provides coverage across all of the current international action including fixtures, results, videos, ICC news, rankings and more. Don’t miss a moment and keep up with the latest from around the world of cricket!

Smriti Mandhana of India bats during the ICC Women's World T20 2018 Semi-Final match between England and India at Sir Viv Richards Cricket Ground on November 22, 2018 in Antigua, Antigua and Barbuda.

हमने डयू फेक्टर के बारे में सोचा ही नहीं: समृति मंधाना

भारत बनाम इंग्लैंड, डब्लूटी-20 का दूसरा सेमीफाइनल, प्रतिक्रिया

भारतीय टीम की उप-कप्तान समृति मंधाना का मानना है कि टूर्नामेंट में पहला मैच फ्लड लाइट में खेलने के कारण रात को घास पर गिरने वाली औस यानि कि डयू ने टीम के स्पिनरों के प्रदर्शन पर असर डाला.

सर  विवियन रिचर्डस स्टेडियम में 22 नवंबर को खेले गए आईसीसी वर्ल्ड टी-20 के दूसरे सेमीफाइऩल में इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम 112 रन ही बना सकी. अपनी पूरी स्पिन पलटून को उतारने के बावजूद वह इंग्लैंड की कोशिशों में दरार डालने में नाकाम रही और आठ विकेट से हारी.

मंधाना ने कहा, हमने डयू फेक्टर के बारे में नहीं सोचा था. हमने सुबह 11 बजे वाले मैच खेले थे और रात को आठ बजे वाला कोई भी मैच नहीं खेला. अभ्यास सत्र के दौरान भी हमें डयू नहीं दिखी. हमनें सोचा ही नहीं कि यह पहलू भी खेल पर असर डाल सकता है. लेकिन इसने खेल पर असर डाला. गेंद ने स्पिन होने की बजाय स्किड करना शुरू कर दिया था.

Video
ENG v IND: Full match highlights

भारत की फिल्डिंग लगाने के तरीके पर भी सवाल उठ रहे हैं. अभी तक एक तरफ फिल्डिंग लेकर गेंदबाजों को आफ स्टंप के बाहर गेंद करने करवाई जा रही थी ताकि बल्लेबाजों को रन बनाने के लिए मेहनत करनी पड़े. जब स्कोर बोर्ड पर टीम का बड़ा स्कोर रहा तो यह रणनीति काफी कारगर साबित हुई. लेकिन जब टीम को आक्रामक रुख अपनाने की जरुरत थी, यह प्लान फेल हो गया.

इंग्लैंड की टीम इस रणनीति से निपटने की तैयारी करके आई थी और उसने लेग साइड खासकर मिड-विकेट पर रन बनाने का सिलसिला जारी रखा. भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर इस जवाबी रणनीति के लिए तैयार नहीं दिखी.

इंग्लैंड की कप्तान एमी जोंस ने कहा,“ हमने भारतीय टीम को मैचों में इसी रणनीति से साथ खेलते देखा था. हम इसके लिए तैयार थे. हम मैदान पर बेहतर खेले.”

मंधाना ने कहा कि, “ हमें सिंगल रोकने के लिए फिल्डिंग लगानी चाहिए थी ताकि इंग्लैंड के बल्लेबाजों पर उपर से शॉट मारने का दवाब बनाया जा सके क्योंकि विकेट लेकर ही हम मैच जीत सकते थे न कि 20 ओवर खेल कर. मुझे लगता है कि इस पर और बेहतर कर सकते थे. ”

Video
ENG v IND: Post-match presentation, including Player of the Match Amy Jones

हालांकि मंधाना को उस पिच पर आक्रामक बल्लेबाजी करने का कोई मलाल नहीं था जिस पर थोड़ा टिक कर रन बनाने की जरूरत थी.

भारतीय टीम की उपकप्तान ने कहा, “ पिछले तीन महीनों में हमारी मेहनत काम आई है. सेमीफाइनल को एक तरफ रखे दे तो आप देखेंगे कि पिछले इस दौरान हमनें एक यूनिट के रूप उम्दा क्रिकेट खेला है. वर्ल्ड कप मे जाने से पहले किसी को भी हम पर यहां तक पहुंचने का यकीन नहीं था”.

मंधाना ने बताया,“ कोच रमेश (पोवार) ने टीम के हर सदस्य के लिए एक भूमिका तय की थी और पिछले चार महीनों में श्रीलंका, और आस्ट्रेलिया ए के खिलाफ खेले मैचों में इसका हमें लाभ भी मिला.एक मैच में हार के बाद आप अपनी वह रणनीति नहीं बदल सकते जो आपके लिए कारगर साबित होती आई है. भविष्य के मद्देनजर यही सही होगा कि हर सदस्य को एक खास भूमिका अदा करने की जिम्मेदारी दी जाए और अगर वह उसे निभाने में नाकाम रहता है तो उसकी जगह देने के लिए किसी दूसरे की पहचान करनी होगी.”